संघ लोक सेवा आयोग (UPSC) द्वारा विभिन्न परीक्षाओं का आयोजन कराया जाता है, जैसे कि इंजिनीरिंग सेवा परीक्षा (ESE), संयुक्त रक्षा सेवा परीक्षा (CDS), राष्ट्रीय रक्षा अकादमी परीक्षा (NDA), संयुक्त चिकित्सा सेवा परीक्षा (CMS), सिविल सेवा परीक्षा (CSE) इत्यादि। इन सभी परीक्षाओं में सबसे प्रचलित एवं महत्वपूर्ण परीक्षा सिविल सेवा परीक्षा (CSE) होती है।

संघ लोक सेवा आयोग (UPSC) द्वारा आयोजित कराई जाने वाली सिविल सेवा परीक्षा के जरिये IAS, IPS, IFS, IRS, इत्यादि पदों पर नियुक्तियां की जाती हैं। इस परीक्षा की तैयारी लाखों उम्मीदवार करते हैं जिसमे कुछ ही सफलता प्राप्त कर पाते हैं। ऐसे में अगर आप भी इस परीक्षा की तैयारी करना चाहतें हैं तो सबसे पहले आपको ये जान लेना जरूरी है कि आप इस योग्य हैं या नहीं। इस लेख के जरिए हम Qualification For UPSC Exam के बारे में सम्पूर्ण जानकारी देंगे जिसे आपको एक बार अवश्य पढ़ना चाहिए।

सिविल सेवा परीक्षा से सम्बंधित संक्षिप्त विवरण Civil Service Exam Related Details)

भर्ती बोर्ड का नामसंघ लोक सेवा आयोग (UPSC)
पदों के नामआईएएस, आईपीएस, आईएफएस तथा अन्य पद
आवेदन की प्रक्रियाऑनलाइन
चयन-प्रक्रियाप्रारम्भिक परीक्षा, मुख्य परीक्षा और साक्षात्कार
श्रेणीप्रमुख परीक्षा
आधिकारिक वेबसाइटhttps://upsc.gov.in/

योग्यता (Eligibility)

संघ लोक सेवा आयोग द्वारा आयोजित की जाने वाली सिविल सेवा परीक्षा में हिस्सा लेने हेतु उम्मीदवार को किसी भी मान्यता प्राप्त विश्विद्यालय से किसी भी विषय से स्नातक (ग्रेजुएट) होना चाहिए। वो उम्मीदवार भी इस परीक्षा में हिस्सा ले सकतें है जो ग्रेजुएशन के अंतिम वर्ष की परीक्षा दे चुके हैं तथा परिणाम का इंतजार कर रहें हैं। वे उम्मीदवार जिन्होंने B.A, B.Sc, B.Tech, B.Arch, BBA, BCA इत्यादि किया है वे इस परीक्षा में हिस्सा लेने योग्य हैं।

आयु सीमा (Age Limit)

यूपीएससी सिविल सेवा परीक्षा में हिस्सा लेने के लिए सामान्य वर्ग (IAS age limit for General) के उम्मीदवारों की आयु सीमा न्यूनतम 21 वर्ष एवं अधिकतम 32 वर्ष होनी चाहिए। ओबीसी वर्ग के उम्मीदवारों की आयुसीमा 21 से 35 वर्ष होती है तथा एससी एवं एसटी वर्ग के उम्मीदवारों की आयुसीमा 21 से 37 वर्ष तक होती है।

सिविल सेवा परीक्षा हेतु प्रयासों की सीमा (Attempts Limitations for

यूपीएससी सिविल सेवा परीक्षा में सामान्य वर्ग के उम्मीदवार अपनी आयु सीमा के भीतर 6 बार इस परीक्षा में बैठ सकतें हैं। ओबीसी वर्ग के उम्मीदवार 9 बार इस परीक्षा में बैठ सकतें हैं वहीं एससी एवं एसटी वर्ग के उम्मीदवार इस परीक्षा में हिस्सा लेने की कोई सीमा नहीं है जिसका मतलब ये होता है कि जितनी बार इस परीक्षा का आयोजन कराया जाएगा वे अपनी आयुसीमा के बीच सभी परीक्षा में हिस्सा ले सकतें हैं। सामान्य, ओबीसी एवं ईडब्ल्यूएस के दिव्यांग उम्मीदवार इस परीक्षा में 9 बार हिस्सा ले सकतें हैं।

कुछ महत्वपूर्ण लेख

यूपीएससी सिविल सेवा परीक्षा में कितने चरण होतें हैं?

यूपीएससी सिविल सेवा परीक्षा में तीन चरण होतें हैं। पहला होता है प्रारंभिक (प्रीलिम्स) परीक्षा, दूसरा होता है मुख्य (मेन्स) परीक्षा एवं तीसरा चरण साक्षात्कार (इंटरव्यू) होता है।

यूपीएससी का फूल फॉर्म क्या होता है?

यूपीएससी का फूल फॉर्म Union Public Service Commission होता है। जिसे हिंदी में संघ लोक सेवा आयोग भी कहतें हैं।

सिविल सेवा परीक्षा (CSE) का आयोजन कौन सी संस्था कराती है?

सिविल सेवा परीक्षा (CSE) का आयोजन संघ लोक सेवा आयोग (UPSC) आयोजित कराती है।

© 2024 Sarkarialert. Powered by Sarkarialert.